शुक्रवार, 22 अगस्त 2008

राम करन यादव


राम करन यादव

5 टिप्‍पणियां:

rahul yadav ने कहा…

dadaji garib majlumo ki awaj hai.

rahul yadav ने कहा…

dadaij hindu -muslim ekta ke prateek.garibo ke rahanuma hai.

amit mourya ने कहा…

dada pichdo ,dalito ke ladaiya hamesa ladi. unke hako ke liye apne sadak se lekar vidhansabha tak sangars kiya hai.

rambachan ने कहा…

ghajipur ki dharti kare pukar dadaji fir active rajniti me aye.

Aavaj ने कहा…

यैसे है राम करन 'दादा' -
दादा जी पर जिसका जो भी बयान है वह उनके व्यक्तित्व से बहुत कम यहाँ तक की उसके करीब भी नहीं है,'आज मान.मुलायम सिंह यादव सबसे माफ़ी मंगाते फिर रहे है यदि कोई उनसे पूछे की "दादा" जैसे कितने शुभ चिन्तक जिनसे उनकी मुलाकात भी नहीं होती थी, उसके कारण आज उन्हें 'आम, आदमी की दूरी महशूश हो रही है. यह व्यक्तित्व है दादा का जिसके चलते मान.मुलायम सिंह इतनी उंचाई तक पहुचने में कामयाब हुए थे, उंचाई पर मुलायम थे पर उनके पीछे पूरब के "गाँधी" श्री राम करन दादा थे.
Dr.Lal Ratnakar
www.ratnakarsart.com